राजस्थान प्री वेटरनरी टेस्ट-2019 संपन्न, जयपुर एवं बीकानेर में ऑफलाइन मोड पर हिंदी एवं अंग्रेजी में आयोजन

*राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ वेटरनरी एंड एनिमल साइंस, बीकानेर*

*राजस्थान प्री वेटरनरी टेस्ट-2019 संपन्न ।। जयपुर एवं बीकानेर में ऑफलाइन मोड पर हिंदी एवं अंग्रेजी में आयोजन*

*…पूर्णतया संतुलित रहा आरपीवीटी -2019 का प्रश्न पत्र*

*फिजिक्स तथा बायोलॉजी दोनों ही विषयों में कुछ प्रश्न लीक से परे रहे…*

राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ वेटरनरी एंड एनिमल साइंस द्वारा बैचलर इन वेटरिनरी साइंस एंड एनिमल हसबेंडरी में प्रवेश हेतु आयोजित की जाने वाली प्रवेश परीक्षा प्री वेटरनरी टेस्ट 2019 का कल 9 जून 2019 को प्रातः 10:00 बजे से 1:00 बजे तक जयपुर एवं बीकानेर शहर में आयोजन किया गया।
करियर प्वाइंट सीनियर वाइस प्रेसिडेंट देव शर्मा ने बताया की ऑफलाइन मोड पर आयोजित की जाने वाली 3 घंटे की इस प्रवेश परीक्षा में कुल 180 प्रश्न पूछे गए। प्रश्न पत्र में फिजिक्स एवं केमिस्ट्री प्रत्येक विषय से 45 प्रश्न तथा बायोलॉजी विषय से 90 प्रश्न थे। प्रत्येक प्रश्न चार अंकों का था तथा नेगेटिव मार्किंग का आधार +4/-1 रहा।

*…प्रश्न पत्र विश्लेषण*

*…फिजिक्स एवं बायोलॉजी दोनों ही विषयों में कुछ प्रश्न लीक से परे रहे*

प्रश्न पत्र के विश्लेषण पर देव शर्मा ने पाया कि प्रश्न पत्र पूर्णतया संतुलित था। प्रत्येक विषय में सिलेबस के हर भाग से प्रश्न था।

*फिजिक्स*

देव शर्मा ने बताया कि यदि फिजिक्स की बात की जाए तो मैकेनिक्स, इलेक्ट्रोमैग्नेटिक्स, रे एवं वेव ऑप्टिक्स तथा मॉडर्न फिजिक्स से संतुलित मात्रा में प्रश्न थे।
वेव ऑप्टिक्स से डिफ्रेक्शन ग्रेटिंग, ट्रांसमिशन ग्रेटिंग तथा पोलराइजेशन पर पूछे गए 3 प्रश्न निश्चित तौर पर लीक से परे थे।इन् तीनों ही प्रश्नों में विद्यार्थियों को परेशानी हुई।
प्रत्यावर्ती धारा में आरएलसी श्रेणी परिपथ की बैंडविथ से संबंधित एक प्रश्न पूछा गया। गुरुत्वाकर्षण मैं सेटेलाइट से संबंधित एक प्रश्न था। द्रव्य की द्वैत प्रकृति से संबंधित प्रश्न भी पूछे गए। स्थिर विद्युतकी, धारा विद्युतकी तथा चुंबकीय पदार्थों से पूछे गए प्रश्न सामान्य थे।

*बायोलॉजी*

देव शर्मा ने बताया कि बायोपायरेसी, लायड बोटैनिकल गार्डन, डेजर्ट एनिमल्स तथा क्रे फिश से संबंधित कुछ प्रश्नों ने विद्यार्थियों को छकाया। कुल मिलाकर यदि बायोलॉजी के प्रश्न पत्र की बात की जाए तो एनाटॉमी, फिजियोलॉजी, बायोडायवर्सिटी, बायो टेक्नोलॉजी तथा इकोलॉजी के मध्य यह पूर्णतया संतुलित प्रश्न पत्र था।

*केमिस्ट्री*

देव शर्मा ने बताया कि केमिस्ट्री के प्रश्न पत्र को एक आसान प्रश्न पत्र कहा जा सकता है। ऑर्गेनिक केमिस्ट्री में नेम रिएक्शन से संबंधित काफी प्रश्न पूछे गए। एल्डोल कंडेंसेशन तथा आयोड़ोंफार्म टेस्ट से संबंधित दो आसान प्रश्न पूछे गए। रिएक्शन मैकेनिज्म से संबंधित प्रश्नों का अभाव था। फिजिकल केमिस्ट्री में केमिकल थर्मोडायनेमिक्स, सॉलि़ड स्टेट, सॉल्यूशंस तथा इलेक्ट्रो केमिस्ट्री से प्रश्न पूछे गए।
सरफेस केमिस्ट्री से कुगुलेशन फैक्टर्स तथा फ्रेंडलिक आइसोथर्म से संबंधित प्रश्नों ने विद्यार्थियों को थोड़ा परेशान किया।
क्वांटम नंबर से लगातार तीन प्रश्न पूछे गए।

*राजस्थान राज्य के मूल निवासी ही पात्र*

*एडीशनल बायोलॉजी के विद्यार्थी पात्र नहीं ।। सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों के लिए अधिकतम आयु सीमा 25 वर्ष।।*

देव शर्मा ने बताया कि प्री वेटरनरी टेस्ट 2019 के लिए राजस्थान राज्य के मूल निवासी ही पात्र होंगे। एक और महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि एडीशनल बायोलॉजी के छात्र प्री वेटरनरी टेस्ट के लिए पात्र नहीं होंगे।
जहां एक और नीट और एम्स में विद्यार्थियों हेतु उम्र की कोई अधिकतम सीमा नहीं है किंतु राजस्थान पीवीटी-2019 में सामान्य वर्ग के विद्यार्थियों के लिए उच्चतम उम्र सीमा 25 वर्ष तथा आरक्षित वर्ग के विद्यार्थियों के लिए 5 वर्ष की छूट के साथ यह सीमा 30 वर्ष निर्धारित की गई है।

Career Point
Register New Account
Reset Password