ओबीसी-एनसीएल तथा ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट अपलोड करने की अंतिम तिथि 7 जून

जेईई एडवांस्ड-2019

ओबीसी-एनसीएल तथा ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट अपलोड करने का आज 7 जून 2019 अंतिम दिन ।। 1 अप्रैल 2019 या उसके बाद जारी किए गए सर्टिफिकेट ही मान्य ।।

लोकसभा चुनावो के मद्देनजर सक्षम अधिकारियों के उपलब्ध न होने के कारण आईआईटी रुड़की द्वारा ओबीसी एनसीएल तथा ईडब्ल्यूएस केटेगरी के विद्यार्थियों को सर्टिफिकेट अपलोड करने के विषय में विशेष छूट दी गई थी।
करियर प्वाइंट के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट देव शर्मा ने बताया की ओबीसी एनसीएल तथा ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट न होने की स्थिति में विद्यार्थियों को एक डिक्लेरेशन फॉर्म अपलोड कर ऑनलाइन फॉर्म भरने की सुविधा दी गई थी।
देव शर्मा ने बताया कि यह सुविधा तात्कालिक ही थी ताकि विद्यार्थियों को जेईई एडवांस 2019 का ऑनलाइन फॉर्म भरने में परेशानी ना हो। आईआईटी रुड़की प्रशासन द्वारा विद्यार्थियों को निर्देशित किया गया था कि वह संबंधित सर्टिफिकेट को 5 जून 2019 तक जेईई एडवांस 2019 की वेबसाइट पर अपलोड कर दें। विद्यार्थी हित को देखते हुए आईआईटी रुड़की प्रशासन ने 4 जून 2019 को एक ऑफिशियल नोट जारी करते हुए सर्टिफिकेट अपलोड करने की तारीख को 5 जून 2019 के स्थान पर 7 जून 2019 कर दिया। विद्यार्थी 7 जून 2019 को सायं 5:00 बजे तक अपलोड कर सकते हैं।
विद्यार्थियों एवम् अभिभावकों को से आग्रह है कि समय सीमा के रहते उपयुक्त सर्टिफिकेट अपलोड कर दें।
देव शर्मा ने स्पष्ट किया कि ओबीसी एनसीएल तथा ईडब्ल्यूएस दोनों ही सर्टिफिकेट 1 अप्रैल या 1 अप्रैल के पश्चात जारी किए गए होने आवश्यक है। 1 अप्रैल से पूर्व जारी किए गए सर्टिफिकेट मान्य नहीं होंगे।

… परीक्षा परिणाम 14 जून 2019 को

।।परसेंटाइल ना होकर परसेंटेज होगा परिणाम का आधार।। टाई होने की स्थिति में उम्र महत्वहीन, सर्वोच्च प्राथमिकता धनात्मक अंको को ।।

देव शर्मा ने बताया कि पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार जेईई एडवांस 2019 का परीक्षा परिणाम 14 जून 2019 को घोषित कर दिया जाएगा।
जेईई मेंस तथा नीट के विपरीत जेईई एडवांस के परीक्षा परिणाम का आधार परसेंटाइल ना होकर परसेंटेज ही है। अर्थात एडवांस के परिणाम में अंक ही सबसे अधिक महत्त्व रखते हैं।
देव शर्मा ने बताया कि एक और महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि अधिकतर प्रतियोगी परीक्षाओं में टाई होने की स्थिति में अधिक उम्र वाले परीक्षार्थी को उच्च रैंक दी जाती है। किंतु जेईई एडवांस में विद्यार्थी की उम्र कोई मायने नहीं रखती।
टाई होने की स्थिति में सर्वोच्च प्राथमिकता विद्यार्थी के धनात्मक अंको को दी जाती है। तत्पश्चात गणित और फिर भौतिक विज्ञान के अंकों को प्राथमिकता दी जाती है। यदि फिर भी टाइ रहता है तो दोनों विद्यार्थियों को समान रैंक दे दी जाती है। अधिक या कम उम्र के आधार पर यहां कोई फैसला नहीं लिया जाता जो कि निश्चित तौर पर अधिक तर्कसंगत है।

Career Point
Register New Account
Reset Password