सीपी ने किया स्टार्स का सम्मान

कॅरिअर पाॅइंट ग्रुप प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने में हमेशा आगे रहता है। विद्यार्थियों के प्रति प्रतिबद्धता को निभाते हुए सीपी की ओर से ‘सीपी स्टार’ का आयोजन किया गया था। जिसका उद्देश्य देश की प्रतिभाओं का आगे लाना था। इस प्रतियोगिता का फाइनल राउण्ड रविवार को सीपी टाॅवर व सीपी ग्रुप की ओर से संचालित गुरुकुल में हुआ। जिसमें शामिल होने के लिए देश भर से विद्यार्थी कोटा पहुंचे। फाइनल राउण्ड के परिणाम में सामने आए विभिन्न कक्षाओं के स्टार विद्यार्थियों के टैलेण्ट सीपी ने शाम को आयोजित फेलिसिटेशन समारोह में सम्मान किया। स्टार विद्यार्थियों को चेक देकर पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सीपी के निदेशक प्रमोद माहेश्वरी, ओम माहेश्वरी, अकादमिक निदेशक २ौलेन्द्र माहेश्वरी व नवल माहेश्वरी ने विधिवत रुप सेे दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की। इस कार्यक्रम में देशभर की प्रतिभाएं अपने अभिभावकों के साथ शामिल हुई।

ये रहे नेशनल टाॅपर
12 (बाॅयोलोजी) में अनिल सैनी फस्र्ट, विजय सिंह सैकण्ड व शौर्य गुप्ता थर्ड रहे। 12वीं कक्षा (मैथ्स) विपिन शर्मा फस्र्ट, दीपक जाजू सैकण्ड व शैलेष रोहतगी थर्ड स्थान पर रहे। 11वीं (बाॅयोलोजी) में जयेश चैधरी फस्र्ट, कुनप्रिया शर्मा सैकण्ड व स्तुति खाण्डवाला थर्ड, 11वीं (मैथ्स) में आयुष सरोगी फस्र्ट, निशांत अभंगी सैकण्ड व अतुर गुप्ता थर्ड रहे। 10वीं कक्षा में मोहित गुप्ता फस्र्ट, मुदिता गोयत सैकण्ड व उत्कर्ष प्रताप सिंह थर्ड रहे। 9वीं में ओम अग्रवाल फस्र्ट, वैष्णवी शारदा सैकण्ड व तनुजा थर्ड रही। इसी प्रकार 8वीं कक्षा में सुखमंजोत सिंह अदिवाल फस्र्ट, मुकुंद मौर्य सैकण्ड व सानवी चैधरी थर्ड रहे।

मिले लाखों के पुरस्कार
कक्षा 10वीं से 12वीं के टाॅपर्स को 1 लाख एवं द्वितीय व तृतीय पर रहने वाले विद्यार्थियों को 50 हजार व 35 हजार रुपए का चैक दिया गया। कक्षा 8 व 9 के टाॅपर्स को 50 हजार एवं द्वितीय व तृतीय स्थान पर रहने वाले विद्यार्थियों को 25 हजार व 17 हजार 500 रुपए का नकद पुरस्कार दिया गया। उल्लेखनीय है कि नकद पुरस्कार पाने वाले विभिन्न स्कूलों के विद्यार्थियों को सीपी में प्रवेश लेने की बाध्यता नहीं रखी गई थी।

17 राज्यों के 130 शहरों में हुआ था पहला राउण्ड

सीपी स्टार के पहले राउण्ड की परीक्षा देश के 17 राज्यों के 130 शहरों में 1177 केन्द्रों पर आयोजित की गई। इसमें करीब सवा लाख स्टूडेंट्स ने भाग लिया। कक्षा 8 से 10वीं तथा 11वीं व 12वीं साइंस के स्टूडेंट्स की प्रतिभा को परीक्षा के माध्यम से परखा गया। पहले राउण्ड में प्रत्येक विद्यालय से चयनित टाॅप थ्री स्टूडेंट्स को दूसरे राउण्ड के लिए चयनित किया गया था। जोकि रविवार को आयोजित फाइनल राउण्ड में शामिल हुए। यह तीन घंटे अवधि की ओएमआर बेस्ड पेपर पेन परीक्षा थी। कक्षा 8वीं से 10वीं तक के पेपर में 100 प्रश्न , जिनमें 50 प्रश्न साइंस व 50 मैथेमेटिक्स से थे। इसी प्रकार कक्षा 11वीं एवं 12वीं के पेपर में भी 100 प्रश्न थे। जिनमें पार्ट वन फिजिक्स से 25, पार्ट टू कैमेस्ट्री से 25, पार्ट थ्री मैथेमेटिक्स अथवा बाॅयोलोजी से 50 प्रश्न पूछे गए।

विभिन्न बिंदुओं पर परखा जाता है विद्यार्थी
सीपी के निदेशक श्री प्रमोद माहेश्वरी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सीपी स्टार में विषय की जानकारी एवं योग्यता, समय प्रबंधन, परीक्षा देने का धैर्य, तार्किक क्षमता आदि की कसौटी पर परखा जाता है। इस विश्लेषण से विद्यार्थी अपनी रूचि के अनुसार, अगली कक्षा में मेंटल एप्टीट्यूड एवं अकेडमिक लेवल से आगे बढ़ सकते हैं। 2013 ये आयोजित इस परीक्षा में पिछले पांच वर्षों में 7.5 लाख से अधिक स्टूडेंट २ाामिल हो चुके हैं। इसमें हर कक्षा के टाॅप-3 स्टूडेंट्स को सम्मान समारोह में पुरस्कृत किया गया।

रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किए
फेलिसेटशन कार्यक्रम के दौरान सीपी गुरुकुल के विद्यार्थियों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। उन्होने एकल नृत्य, सामूहिक नृत्य व नाट्य प्रस्तुतियां देकर कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए।

इस मंच के पीछे अभिभावकों व विद्यार्थियों का विश्वास
निदेशक शैलेन्द्र माहेश्वरी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सीपी स्टार के इस मंच के के पीछे अभिभावकों व विद्यार्थियों का विश्वास है। पूरे भारत में सिर्फ सीपी एक ऐसा संस्थान है जो सीपी स्टार जैसी परीक्षा के माध्यम से विद्यार्थियों की प्रतिभा को सामने लाता है।
सीपी के सिस्टम को सराहा
समारोह में कई राज्यों के अभिभावक विद्यार्थियों के साथ कोटा पहुंचे। उन्होने कहा शिक्षा के क्षेत्र में कोटा का नाम काफी सुना है। सीपी स्टार के जरिए यहां आने का मौका मिला। सीपी स्टार एग्जाम का सिस्टम अन्य एग्जाम से हटकर है। अभिभावकों ने कहा कि सीपी में सुबह से २ााम कब हो गई, पता ही नहीं चला। यहां स्टाफ ने काफी सहयोग किया। सीपी की ओर से संचालित गुरुकुल का भ्रमण भी किया। जोकि काफी अच्छा कंसेप्ट है। यहां हैं। यहां पढ़ने वाले विद्यार्थियों के लिए सब कुछ है। यहां के कोचिंग संस्थान विद्यार्थियों के साथ खूब मेहनत करते हैं।

Career Point
Register New Account
Reset Password